HBD: दोस्तों के बीच ‘चोंच’ नाम से मशहूर, फिल्मों में गाना भी गाया, ऐसे बने ‘अंग्रेजों के जमाने के जेलर’

मुंबई: ‘अंग्रेजों के जमाने के जेलर’ वाले रोल के लिए फेमस दिग्गज अभिनेता और कॉमेडियन असरानी (Asrani) का जन्म 1 जनवरी 1941 को जयपुर में हुआ था. असरानी का पूरा नाम गोवर्धन असरानी (Govardhan Asrani) है. उन्होंने 5 दशक तक फिल्मों में काम किया है जिनमें 350 से भी ज्यादा फिल्में शामिल हैं. बचपन से ही फिल्मों में दिलचस्पी रखने वाले असरानी ने 1964 में पुणे के फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया में दाखिला लिया और वहीं से अभिनय सीखा. शुरुआती दौर में ज्यादा रोल नहीं मिले, इसलिए वो एफटीआईआई में ही शिक्षक बन गए थे. असरानी ने यूं तो सैकड़ों फिल्मों में काम किया है, लेकिन ‘शोले’ का जेलर वाला किरदार सब पर भारी पड़ गया. आपको जानकर हैरानी होगी कि कॉमेडी के लिए मशहूर असरानी ने फिल्मों में गाने भी गाए हैं.

असरानी जयपुर में पले-बढ़े और पढ़ाई-लिखाई भी गुलाबी शहर में ही हुई. असरानी अपने दोस्तों के बीच ‘चोंच’ के नाम से मशहूर हैं, लेकिन प्रोफेशनल फ्रंट पर ‘अंग्रेजों के जमाने के जेलर’ के तौर पर जाने जाते हैं. ‘शोले’ फिल्म के इस खास किरदार को लेकर असरानी ने एक इंटरव्यू में बताया था कि इस रोल को करने के लिए खास तैयारी की थी. सलीम-जावेद ने एक किताब दी थी, जिसमें हिटलर की तस्वीरें थीं, उन्हें वैसा ही लुक बनाने के लिए कहा गया. कॉस्ट्यूम और विग तैयार करने के लिए खास लोगों को जिम्मेदारी सौंपी गई. पुणे फिल्म इंस्टीट्यूट में हिटलर की रिकॉर्डेड आवाज थी जो छात्रों को ट्रेनिंग देने के काम आती थी, उसे सुनकर असरानी ने भी कुछ हिटलर की तर्ज पर बोला ‘अंग्रेजों के जमाने के जेलर हैं’, जो मशहूर हो गया.

कपिल शर्मा ने 2 दिन में बनाया था शो का फॉर्मेट, ऐसे बने मशहूर होस्ट, हैरतअंगेज है पूरी कहानी

असरानी को कॉमिक रोल के लिए जाना जाता है, लेकिन कम लोगों को पता होगा कि वह गाना भी बहुत अच्छा गाते हैं. 1977 में आई फिल्म ‘आलाप’ में असरानी ने दो गाने गाए जो उन्हीं पर फिल्माए भी गए. इसके अलवा ‘फूल खिले हैं गुलशन गुलशन’ में मशहूर गायक किशोर कुमार के साथ भी एक गाना गाया. असरानी ने अधिकतर फिल्मों में साइड रोल किए हैं, मगर ‘चला मुरारी हीरो बनने’ और ‘सलाम मेमसाहब’ जैसी फिल्मों में उन्होंने लीड एक्टर के तौर पर भी काम किया है. असरानी ने 1967 में रिलीज हुई फिल्म ‘कांच की चूड़ियां’ से फिल्मों में कदम रखा. इसके अलावा ‘मेरे अपने’, ‘बावर्ची’, ‘परिचय’, ‘अभिमान’, ‘मेहबूब’, ‘बंदिश’, ‘चुपके-चुपके’ जैसी फिल्मों में असरानी ने बेहतरीन अदायगी दिखाई है.

ये भी पढ़िए-कादर खान का कब्रिस्तान से था खास लगाव, 48 साल पहले लिखा ऐसा डायलॉग, मांगे 25 हजार तो मिल गए सवा लाख
असरानी की शादी एक्ट्रेस मंजू बंसल से हुई है, दोनों ने एक साथ कई फिल्मों में काम किया, मोहब्बत हुई तो शादी रचा ली. असरानी और मंजू का एक बेटा नवीन असरानी है. असरानी तीन भाई और चार बहनें हैं. उन्होंने हिंदी के अलावा गुजराती फिल्मों में भी काम किया. इसके अलावा, राजनीति में भी दिलचस्पी रखते हैं. सन 2004 में कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की थी.

Tags: Bollywood actors, Bollywood Birthday

Source Link

Read in Hindi >>